Tuesday, March 3, 2020

गुरूकुलम व पीव्हीजीटी विद्यालय में व्याप्त समस्याओं का किया जाये समाधान-जीएसयू

गुरूकुलम व पीव्हीजीटी विद्यालय में व्याप्त समस्याओं का किया जाये समाधान-जीएसयू 

सरकार, शासन-प्रशासन व विभागीय प्रमुख समस्याआें के समाधान हेतु ले संज्ञान

जबलपुर। गोंडवाना समय। 
सरकार के द्वारा जनजातिय वर्ग के विद्यार्थियों के शैक्षणिक विकास के लिये विशेष रूप से प्रयास किया जा रहा है ताकि वे शैक्षणिक दिशा में प्रगति कर सके है और सरकार की इस तरह की योजनायें वास्तविक रूप में अच्छी भी है इनका लाभ जवाबदारी व जिम्मेदारी के साथ विद्यालयों में उपलब्ध करवाई जाये तो सरकार की मंशा भी पूरी हो सकती है
उक्त बाते जीएसयू के प्रदेश अध्यक्ष शोकलाल कुलस्ते ने जानकारी देते हुये बताया कि इसी के संदर्भ में सरकार के माध्यम से संचालित जनजाति वर्ग के विद्यार्थियों के लिये गुरूकुलम विद्यालय और पीव्हीजीटी विद्यालय जबलपुर में जीएसयू की टीम ने पहुंचकर 3 मार्च 2020 दिन मंगलवार को सरकार द्वारा उपलब्ध करवाई जा रही योजनाओं के तहत सुविधाओं की यथास्थिति की जानकारी लिया। इस दौरान गोंडवाना स्टूडेंट यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष शोकलाल कुलस्ते, जीएसयू के प्रदेश संयोजक सुरेन्द्र शाह बरकड़े मौजूद रहे। उन्होंने बताया कि गुरूकुलम विद्यालय ओर पीव्हीजीटी विद्यालय जबलपुर में पहुंचने पर वहां पर मिल रही सुविधाओं के साथ साथ अनेक समस्याओं की जानकारी भी मिली।

भोजन की गुणवत्ता में है कमी तो महत्वपूर्ण विषयों के नहीं है शिक्षक 

इस संबंध में जानकारी देते हुये गोेंडवाना स्टूडेंट यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष शोकलाल कुलस्ते व जीएसयू के प्रदेश संयोजक सुरेन्द्र शाह बकरड़े ने बताया कि वहां पर रहने वाले विद्यार्थियों को अच्छा भोजन नहीं दिया जाता है। वहीं विद्यालयों में खेलकूद और सांस्कृतिक विषयों के शिक्षक नहीं हैं। एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट में भी शिक्षक नही हैं। इसके साथ ही कम्प्यूटर विषय से संबंधित शिक्षको की भी कमी नजर आयी। 

जीएसयू प्रदेश, जिला, ब्लॉक शाखा शैक्षणिक उत्थान में निरंतर कर रहा कार्य

वहां पर मौजूद समस्याओं का समाधान कराये जाने के लिये जीएसयू द्वारा प्रदेश सरकार, शासन-प्रशासन व संबंधित विभागीय उच्चाधिकारियों व प्रबंधकों से विशिष्ट विद्यालयों में समस्याओं का समाधान किये जाने की मांग किया गया है ताकि बच्चों के भविष्य शैक्षणिक भविष्य पर इसका नकारात्मक प्रभाव न पड़े। वहीं इन विशिष्ट विद्यालयों की शिक्षा व्यवस्थाओं में सुधार हेतु जीएसयू प्रदेश, जिला व ब्लॉक शाखा द्वारा निरंतर प्रयास किया जा रहा हैं, ताकि बच्चों के शैक्षणिक भविष्य को नई दिशा दशा प्रदान कर उनको संवारा जा सके।

2 comments:

  1. I liked this group very much which has moved towards the bright future of its society and the deficiencies which are being shown to everyone so that the administration can talk

    ReplyDelete
  2. GSU KI YH BAHUT SARAHNIYA PAHAL H IS SCHOOL ME MERI SISTER BHI STUY
    KARTI H ......
    THANKS���� GSU TEAM AND SURENDRA SAH WARKADE SIR FOR FOR KINDNESS.
    WISH U SUCCESS LIFE STORY. CREATE NEW HISTORY BY YOUR JOB.

    ReplyDelete

Translate