Thursday, April 9, 2020

20 लाख से अधिक पाठकों का आभार-सेवा जौहार

20 लाख से अधिक पाठकों का आभार-सेवा जौहार 

नागरिको से प्रार्थना, घर पर रहे, स्वस्थ्य रहे, सेवा कर राष्ट्र धर्म निभाये  

https://www.gondwanasamay.com/  पर आप देख सकते है खबर 

आभार लेख 
विवेक डेहरिया 
संपादक गोंडवाना समय
दैनिक गोंडवाना समय समाचार पत्र केंद्र व राज्य सरकार की लोककल्याणकारी योजनाओं, महत्वपूर्ण जानकारी, शासन-प्रशासन के द्वारा किये जाने वाले क्रियान्वयन को जन-जन तक पहुंचाने व जनता की आवाज को सरकार-शासन-प्रशासन तक पहुंचाने के लिये अपने पथ पर जनता की आवाज और पाठकों के विश्वास पर निरंतर अग्रसर है।
       
     
      जबकि शोषण-अन्याय-अत्याचार के विरोध में चलने वाली कलम की स्याही किसी भी रंग की हो किसी भी कागज पर चले पर बोलती सच है और शोषणकारियों का काला चिठ्ठा खोलकर रख देती है। वैसे भी लोकतंत्र के चौथे स्तंभ की स्वतंत्रता को जकड़ने के लिये योजना बनाते योजनाकारों के रहते समाचार पत्रों का और फिर दैनिक समाचार पत्र का प्रकाशन बेहद कठिन ही है। 
हालांकि बदलते युग व तरक्की के साथ प्रगति भी जरूरी है लेकिन वहीं देश में अखबार के पन्ने की संख्याओं को गिनकर, प्रिंटिग का कलर-क्वालिटी के साथ-साथ कागज की चिकनाहट देखकर पत्रकारिता का पैमाना तय किया जाता है।
पूंजीवादी व्यवस्था, प्रतियोगिता के इस दौर में, चाटूकारिता की चाल में चल रही कलम, आलोचना को सहन नहीं करने वाले सत्ताधारी, शासन-प्रशासन जो आईना में अपने चेहरे के दाग को बताने वालों को मुखर विरोधी होने का ईनाम से सम्मानित किया जाता है, यहां तक कि आजादी के दौर में अंग्रेजों के शोषण को जन-जन तक पहुंचाने वाले समाचार पत्रों के छोटे साईज व कम पेज पर ही विरोध का बिगुल फूंका जाता था।

ऐसे संघर्ष के सफर में 20 लाख से अधिक पाठकों ने मजबूत किया इरादा 

जहां एक और दैनिक समाचार पत्र का प्रकाशन गोंडवाना समय के द्वारा प्रिंटिंग किया जा रहा है। वहीं आॅनलाईन के रूप में भी पाठकों से जुड़ी हुई महत्वपूर्ण खबरों को पढ़ने की सुविधा दैनिक गोंडवाना समय के 
द्वारा किया जा रहा है। आॅनलाईन समाचार को 20 लाख से अधिक पाठकों ने पढ़कर गोंडवाना समय के समाचार व संघर्ष का साथ दिया है। हमारा प्रयास है कि जनता की आवाज और पाठकों का विश्वास कायम रहे।

20 लाख से अधिक पाठकों का आभारी है गोंडवाना समय परिवार 

दैनिक गोंडवाना समय परिवार 20 लाख से अधिक पाठकों का हृदय से आभार व सेवा जौहार व्यक्त करता है। बीते 29 मार्च 2020 का रिपोर्ट कार्ड देखे तो 19 लाख से कुछ ही अधिक पाठकों का साथ मिला था वहीं उसके बाद कम समय में 20 लाख से अधिक पाठकों की संख्या हो गई है। दैनिक गोंडवाना समय के संघर्ष को साथ देने वालों का विश्वास ऐसा ही कायम रहे। 

दैनिक गोंडवाना समय की नागरिकों से प्रार्थना

वर्तमान समय में भारत देश वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण से जूझ रहा है। इस बीमारी से बचने के उपाय जो स्वास्थ्य विभाग, सरकार, शासन-प्रशासन द्वारा जो जानकारी दी जा रही है उसे हम सब मिलकर मानते हुये लॉकडाउन के दौरान आगामी समय में नियम-निर्देशों का पालन कर कर्तव्य निभाये।
  कोरोना संक्रमण को हराने के लिये कर्तव्य निभा रहे अधिकारियों-कर्मचारियों, समाजिक संगठनों का उत्साहवर्धन करने में भूमिका निभाये। इसके साथ ही हम अपनी अपनी सक्षमता के मुताबिक जरूरतमंद नागरिकों की सेवा करने में आगे आकर हाथ बटांये, राष्ट्र धर्म निभाये। 

गोंडवाना समय पर आॅनलाईन खबरों को पढ़ने के लिये    https://www.gondwanasamay.com/

No comments:

Post a Comment

Translate