Tuesday, May 26, 2020

20 लाख करोड़ का पैकेज भी 15 लाख की तरह ही जुमला बन कर रह गया-खुराना

20 लाख करोड़ का पैकेज भी 15 लाख की तरह ही जुमला बन कर रह गया-खुराना 

कांग्रेस अध्यक्ष ने की मांग, लोगों के खाते में 10 हजार रूपये नगद डाले केंद्र सरकार 

सिवनी। गोंडवाना समय। 
जिला कांग्रेस कमेटी सिवनी अध्यक्ष राजकुमार खुराना ने कहा कि देश में कोरोना संकट के चलते लाखो श्रमिक, किसान, असंगठित  क्षेत्रों में काम करने वाले, छोटे पैमाने पर व्यवसाय करने वाल ऐसे प्रत्येक कामगार, व्यवसायी जो कि प्रति दिन काम कर अपने परिवार का भरण-पोषण करते है ये सभी पैसे, भोजन, नौकरी और अन्य आवश्यक वस्तुओं के लिए संघर्ष कर रहे है।
           हमारे देश मे लाखों प्रवासी मजदूर महिलाए बच्चे एक राज्य से दूसरे राज्य अपने घर आने के लिए सैकड़ो कि.मी. भूखे-प्यासे निकल पड़े है, यह तस्विर हृदय विदारक है एवं मन को झकझोरती है। पैदल चलने एवं ट्रक-बसो से निकलते समय वाहन दुर्घटाओं में अनेक प्रवासी मजदूरो की मृत्यु हो गयी है।
             अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी के आव्हान पर इन प्रवासी मजदूरो को अपने घर तक पंहुचाने के लिए टेन का किराया, बसो की व्यवस्था, भोजन व्यवस्था करने लिए कांग्रेस जनो से कहा गया, सभी क्षेत्रों में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता एवं नेता गण लोगो की मदद कर रहे है।

सार्थक कदम उठाने में रही विफल 

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी जी एवं श्री राहुल गांधी ने हमारे प्रवासी कामगार, किसानों, दैनिक वेतन भोगियों एवं कोरोना संक्रमण से जूझ रहे लोगो के लिए केन्द्र सरकार से सहयोग की मांग की और सुझाव दिये किन्तु केन्द्र सरकार समर्थन करने के बजाय इनकी दुर्दशा को नजरअंदाज करती रही है और सार्थक कदम उठाने में विफल रही है।

काम धंधे से बेकार बैठे लोगों को ऋण देने की बात कर रही सरकार 

जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष श्री राजकुमार खुराना ने कहा कि 20 लाख करोड़ का पैकेज भी 15 लाख की तरह ही जुमला बन कर रह गया है। वर्तमान में परेशानी से जूझ रहे लोगो को नगद राशि की आवश्यकता है लेकिन सरकार की मंशा नगद राशि देने की प्रतीत नहीं हो रही है।
          वह संकट की इस घड़ी में काम धंधे से बेकार बैठे लोंगो को ऋण देने की बात कर रही है। इस प्रकिया में  कितना समय लगेगा यह सरकार बताने में भी असमर्थ है। कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी ने मांग की है कि सरकार लोगो के खाते में 10 हजार रू. नगद राशि डाले जिससे वे अपनी दैनिक आवश्यकता की सामाग्री क्रय कर सके।

No comments:

Post a Comment

Translate