Sunday, May 3, 2020

पिंडरई पंचायत में नहीं थम रही सरपंच सचिव की मनमानी

पिंडरई पंचायत में नहीं थम रही सरपंच सचिव की मनमानी 

मनरेगा के मजदूरों से निजी खेत की मेढ़ में डलवा रहे मुरम  

लखनादौन। गोंडवाना समय।
जनपद पंचायत लखनादौन की ग्राम पंचायत पिंडरई में सरपंच-सचिव की मनमानी जनपद पंचायत लखनादौन के अधिकारियों के संरक्षण के चलते मनमानी थमने का नाम नहीं ले रही है। हम आपको बता दे कि पूर्व में ही अनेक ऐसे आर्थिक अनियमिततायें की गई है जिसके लिये सरपंच-सचिव से आर्थिक वसूली के लिये नोटिस भी जारी किये गये है लेकिन जनपद पंचायत लखनादौन में बैठे कुछ अधिकारियों कर्मचारियों के सरंक्षण के कारण आर्थिक अनियमितताओं का खेल सरपंच-सचिव का बेधड़क जारी है। 

रोकथाम के लिये नहीं किये कोई उपाय 

हम आपको बता दे कि कोरोना वायरस संक्रमण के चलते लॉकडाउन के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध करवाये जाने के लिये सरकार ने काम भी प्रारंभ करने की अनुमति दिया है वहीं कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिये इससे संबंधित सामग्री जैसे कि मास्क प्रदान करना व सेनेटाईजर आदि अन्य कार्यों के लिये राशि प्रदान किया है। ग्राम पंचायत पिंडरई में ऐसी कोई गतिविधि दिखाई नहीं दी है। 

बंद पड़ी नलजल योजना, पेयजल के लिये तरस रहे ग्रामीण

जनपद पंचायत लखनादौन के अंतर्गत ग्राम पंचायत पिण्डरई के ग्राम पिपरिया में नल जल योजना बीते लगभग 6 महीनों से बंद पड़ी हुई है। जिसके कारण ग्रामीण जन पानी के लिए तरस रहे है। बताया जाता है कि नल जल योजना की लागत लगभग 100000 लाख के आसपास की सामग्री उपयोग पर जैसे मौटर पंप, पाईप लाईन, नल, लीड इत्यादि सामने दिख रहा है इसके साथ ही अन्य राशि में आर्थिक अनियमिततायें की गई है। 

निजी खेत के मेढ़ पर डाल रहे मुरम            

ग्राम पंचायत पिंडरई में मनरेगा के अंतर्गत कार्य किया जा रहा है। मनरेगा के अंतर्गत तालाब का निर्माण किया जा रहा है। जिस पर लगभग 100 मजदूर काम कर रहे हैं। वहीं एक ट्रैक्टर लगाया गया है जिस पर मनरेगा के अंतर्गत तलाब पर कार्य करने वाले मजदूर ही उस ट्रैक्टर पर मुरम भरकर ट्रैक्टर द्वारा रूपकांत राय के खेत के मेढ़ पर मुरम डाला जा रहा है। 

No comments:

Post a Comment

Translate