Saturday, June 20, 2020

जमीनी विवाद पर चाचा की भतीजे ने किया हत्या, 3 घण्टे नहीं पहुँची पुलिस, ट्रेक्टर में चोटिल पिता को लाया पुत्र

जमीनी विवाद पर चाचा की भतीजे ने किया हत्या, 3 घण्टे नहीं पहुँची पुलिस, ट्रेक्टर में चोटिल पिता को लाया पुत्र

सिवनी। गोंडवाना समय। 
जमीन के विवाद में सिवनी जिले के केवलारी थाना अंतर्गत ग्राम चौरा पाठा में शुक्रवार के दिन खूनी संघर्ष 2 भाइयो के परिवार के बीच में विवाद हुआ। जिसमें 1 भाई की मृत्यू मण्डला ले जाते वक्त रास्ते में ही ग्राम डिठौरी में हो गई। वहीं रास्ते से ही एम्बुलेन्स को वापिस लौटा के पुलिस कार्यवाही के बाद शव को परिजनों को ग्राम रवाना कर दिया गया। 

टैक्टर से नैनपुर लेकर पहुंचा परिवार 

जमीनी विवाद को लेकर हुये खूनी खेल में 3 घण्टे चोटिल वृद्ध घर पर ही पड़ा रहा पर न तो डायल 100, न 108 और न ही केवलारी पुलिस मदद के लिये पहुंची। श्ुाक्रवार के दिन सुबह लगभग 10 बजे की घटना के बाद दोपहर में 1 बजे पिता को पुत्र धनेश्वर टेक्टर से अस्पताल नैनपुर लेकर गया था। जहां गंभीर रूप से चोटिल को 
इलाज के बाद मण्डला रिफर किया गया था लेकिन रास्ते मे ही वृद्ध मेर सिंह इनवाती उम्र 60 वर्ष ने दम तोड़ दिया। वहीं नैनपुर पुलिस ने 0 में मामला कायम कर शव का पोस्टमार्टम करा के शव को परिजनों को सौप दिया था। 

नैनपुर पुलिस ने 0 में किया प्रकरण दर्ज 

नैनपुर पुलिस ने नाम जद 302, 34 के तहत मृतक मेर सिंग इनवाती के सगे छोटे भाई विनय उसकी पत्नि कस्तूरी इनवाती, पुत्र राजकुमार और पुत्री चमेली पर हत्या का मामला कायम किया है। हत्या का मुख्य कारण जमीन विवाद है। विनय के परिजन का बीमार होने के कारण वह बड़े सगे भाई मेर सिंग इनवाती पर शक करता था जो हत्या के रूप में सामने आया। वहीं घटना के 3 घण्टे के बाद न डायल 100, न 108 और न ही केवलारी पुलिस पहुंच पाई उक्त आरोप लगाते हुये मृतक मेर सिंग के पुत्र धनेश्वर ने लगाए है। 

नैनपुर पुलिस रही सजग केवलारी पुलिस की रही लापरवाही 

केवलारी में बड़े पुल पर काम चल रहा है और छोटे पुल पर कभी भी पानी आ जाने से डोभ होते हुए चोरा पाठा मार्ग चालू है। इस स्थिति के कारण भी गंभीर रूप से हुये चोटिल हुये वृद्ध को लगभग 3 घण्टे तक किसी की मदद नही मिली और आपस में खूनी खेल में 1 भाई की मृत्यू हो गई। हत्या के 1 आरोपी राजकुमार इनवाती को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में जितनी सवेंदन शील और हत्या के बाद सजग नैनपुर पुलिस हुई उतनी केवलारी पुलिस को होना चाहिये था। घटना सुबह 10 से 1 बजे तक चोटिल घर में पड़ा रहा। चाहते तो समय पर पुलिस या अन्य मदद के लिये पहुंच सकते थे। वहीं मृतक के परिवारजनों व क्षेत्रिय ग्रामीणों का कहना है कि केवलारी पुलिस की लापरवाही से एक मौत हो गई।

No comments:

Post a Comment

Translate