Friday, December 18, 2020

शहीद किसानों को 20 दिसंबर को श्रदांजलि देने होंगी सभाएं

शहीद किसानों को 20 दिसंबर को श्रदांजलि देने होंगी सभाएं

देश के सभी गाँवों में 20 दिसंबर को 11 से 1 बजे तक की जायेंगी सभाएं 

किसान नेता ऋषिपाल अम्बावता को उनके समर्थकों के साथ गिरफ्तारी पर पुलिसिया कार्यवाही की निंदा 


नई दिल्ली। गोंडवाना समय।
 

संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि अभी तक संयुक्त किसान मोर्चा को सुप्रीम कोर्ट की तरफ से कोई आधिकारिक नोटिस नहीं मिला है इसलिए हम सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई पर कोई बयान नहीं देंगे। वहीं संयुक्त किसान मोर्चा के वरिष्ठ नेता वरिष्ठ वकीलों (दुष्यंत दवे, प्रशांत भूषण, कॉलिंस गोंसाल्वेस, एच. एस. फुल्का एवम अन्य) से कल चर्चा करेंगे और सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई पर अपनी रणनीति बनाएंगे।

बाबा राम सिंह जी को सभी किसान नेताओं ने श्रद्धांजलि दी  

संयुक्त मोर्चा द्वारा बताया कि गुरूवार को मुख्य स्टेज पर सुबह बाबा राम सिंह जी को सभी नेताओं ने श्रद्धांजलि दी। बाबा राम सिंह जी ने सिंघु बॉर्डर पर किसान आंदोलन के दौरान अपनी कुबार्नी दी थी। सभी धरनों पर बाबा राम सिंह जी के लिए 2 मिनट का मौन भी रखा गया। किसान आंदोलन में शहीद हुए किसानों को श्रद्धांजलि देने के लिए देश के सभी गाँवों में 20 दिसंबर को 11 से 1 बजे तक सभाएं आयोजित की जाएंगी। वहीं चिल्ला बॉर्डर को आज बन्द करने के दौरान दिल्ली पुलिस ने किसान नेता ऋषिपाल अम्बावता को उनके समर्थकों के साथ गिरफ्तार कर लिया गया, संयुक्त किसान मोर्चा इस पुलिसिया कारवाई की निंदा करता है। 

No comments:

Post a Comment

Translate