Wednesday, December 2, 2020

पीएम मोदी, मुकेश अंबानी, गौतम अडामी के 5 दिसंबर को करेंगे पुतले दहन

 पीएम मोदी, मुकेश अंबानी, गौतम अडामी के 5 दिसंबर को करेंगे पुतले दहन 

3 दिसंबर को कैबिनेट मंत्रियों के समक्ष रखेंगे कृषि कानून की खामियां 


नई दिल्ली। गोंडवाना समय।
 

संयुक्त किसान मोर्चा के प्रमुख पदाधिकारियों के द्वारा पत्रकारवार्ता में जारी विज्ञप्ति में जानकारी देते हुये बताया कि कैबिनेट मंत्रियों के साथ 3 दिसंबर 2020 को होने वाली बैठक में किसान नेताओं द्वारा एक-एक कर के कृषि कानूनों की सभी खामियों को सामने रखा जाएगा। वहीं 5 दिसंबर 2020 को देशभर के सभी गाँवों में पीएम मोदी, मुकेश अम्बानी, गौतम अडानी के पुतले दहन किये जायेंगे।

खिलाड़ी व सेवानिवृत्त सैनिक अवार्ड व स्मृति चिह्न करेंगे वापस 

संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा जानकारी देते हुये आगे बताया गया कि इसके साथ ही आगामी 7 दिसंबर को किसान आंदोलन के समर्थन में खिलाड़ी एवं रिटायर्ड सैनिक केंद्र सरकार को अपने सभी अवार्ड एवं स्मृति चिन्ह वापस करेंगे। किसान आंदोलन को देश के सभी वर्गों एवं सामाजिक संगठनों का समर्थन प्राप्त हो रहा है। इसके साथ ही दिनों-दिन धरने स्थल पर किसानों की संख्या लगातार बढ़ रही है। 

बातचीत का नहीं निकला नतीजा आंदोलन करेंगे तेज 

सरकार यह दुष्प्रचार न करे कि यह आंदोलन सिर्फ कुछ राज्यों एवं वर्गों तक सीमित है। यदि सरकार के साथ 3 दिसंबर उ2020 की बातचीत में कोई नतीजा नहीं निकलता है तो उसके बाद संयुक्त किसान मोर्चा के नेता बैठक कर के कड़े कदम उठाएंगे और आंदोलन को तेज करेंगे।

पत्रकारवार्ता में ये रहे मौजूद 

संयुक्त किसान मोर्चा की आयोजित 2 दिसंबर 2020 को प्रेस कॉन्फ्रेंस में डॉ दर्शन पाल (पंजाब), श्री शिव कुमार कक्काजी (मध्यप्रदेश), श्री जगजीत सिंह दल्लेवाल (पंजाब), श्री गुरनाम सिंह चढूनी (हरियाणा), मेधा पाटेकर (मध्यप्रदेश), श्री रणजीत राजू (राजस्थान), श्री योगेंद्र यादव (हरियाणा), श्री प्रतिभा शिंदे (महाराष्ट्र), श्री अक्षय कुमार (उड़ीसा), श्री के. वी. बीजू (केरल), श्री संदीप गिड्डे (महाराष्ट्र), श्री हरपाल चौधरी (उत्तरप्रदेश), कविता कुरुगंते (कर्नाटक) आदि ने मीडिया को सम्बोधित किया। 


No comments:

Post a Comment

Translate