Wednesday, December 30, 2020

चुनाव के करीब-करीब उसकी यह सोच किसी व्यक्ति विशेष पर निर्भर होकर उसे ऐसा निर्णय लेने में कर देती है मजबूर

चुनाव के करीब-करीब उसकी यह सोच किसी व्यक्ति विशेष पर निर्भर होकर उसे ऐसा निर्णय लेने में कर देती है मजबूर 

नगरीय निकाय चुनाव का दौर और सिवनी का मतदाता पर संजय शर्मा ने रखे ये विचार 


सिवनी। गोंडवाना समय।

एक आम मतदाता के रूप में अपनी बात रखते हुये श्री संजय शर्मा कहते है कि आगामी कुछ ही महिनों में होने वाले नगर पालिका चुनाव सिवनी और सिवनी के वार्ड की  मूलभूत समस्याओं उनके समाधान उससे जूझता हुआ मतदाता दिखाई दे रहा है। वहीं मतदातागण वार्ड के पिछले जनप्रतिनिधियों से आस लगाए, वार्ड से नए उम्मीदवार की तलाश में कैसा होगा वार्ड पार्षद, क्या होगी वार्ड की व्यवस्था, कैसा होगा नगर पालिका अध्यक्ष के साथ ही क्या वह पूर्ण हो पाएंगी समस्याएं, इन सभी के बीच उलझा हुआ आम आदमी जब मतदाता के रूप में चुनाव में अपने आप को देखता है तो वह यह सोचता है कि मेरे वार्ड में उम्मीदवार किस पार्टी से है, उस पार्टी का क्या वर्चस्व है, क्या यह पार्टी का पार्षद या निर्दलीय पार्षद मेरे वार्ड में क्या काम कर पाएगा या नहीं। 

यह निर्णय लेने में कई बार असमर्थ अपने आप को पाते है


अधिकांश मतदाताबंधु चाह कर भी यह निर्णय लेने में कई बार असमर्थ अपने आप को पाते है। चौक चौराहे में चर्चा कर अपने विचारों को साझा कर अपने आप को संतुष्ट  करते हुए  स्वयं का निर्णय ले लेता है और चुनाव के करीब-करीब उसकी यह सोच किसी व्यक्ति विशेष पर निर्भर होकर उसे ऐसा निर्णय लेने में मजबूर कर देती है, तब वह स्वयं यह निर्णय नहीं कर पाता कि मैं एक ऐसा जनप्रतिनिधि का चयन कर रहा हूं जो मेरे वार्ड के प्रति या सिवनी के प्रति कैसी सोच रखता है या सिवनी की मूलभूत समस्या क्या है या वार्ड की समस्याएं पर चुनाव में प्रत्याशी के रूप में ही दिखाई दिया है या फिर पिछले कई वर्षों से आपके वार्ड या सिवनी शहर में उन समस्याओं को उठाते रहा है। 

अपना निर्णय स्वयं ले, योग्य प्रत्याशी को ही अपना मतदान करें 


अंत में वह सिवनी को फिर 5 साल पीछे  पाता है, बेहतर यह आपको सोचना है कि आप एक ऐसे मतदाता के रूप में अपने आपको तैयार रखें कि अपना निर्णय स्वयं ले, योग्य प्रत्याशी को ही अपना मतदान करे। सिवनी नगरीय निकाय सीमा में लगभग 77 हजार मतदाता हैं। जिन्हें वार्डों में यदि बांटते हैं तो प्रत्येक वार्ड में लगभग 2500-4000 मतदाता है। कुल मतदाताओं में लगभग 30 से 35 % मतदाता  वोट ही नहीं कर पाते है। वहीं 30 % मतदाता जो पार्टी समर्पित होते हैं और 10 % मतदाता परिचित होते हैं जो कि किसी व्यक्ति विशेष को वोट करते हैं। वहीं 25 % शेष मतदाता तात्कालिक माहौल को देखते हुए वोट करते है, इसके साथ ही अंत में कुछ मतदाता ऐसे होते हैं जिन्हें ऐसी किन्ही बातों से कोई तालुकात नहीं होता है और वह उसी लहर में वोट कर देते हैं, जो उन्हें अति उत्साहित या प्रोत्साहित करती है और ऐसे ही मतदाता किसी प्रत्याशी को विजयश्री दिलाने के लिए काफी होते हैं। 

आपका एक मत अमूल्य है इसका प्रयोग अनिवार्य रूप से करें 

अंत में संजय शर्मा कहते है कि सिवनी नगरीय क्षेत्र के जागरूक नागरिक व मतदाता होने के नाते सभी मतदाता अपना मताधिकार का प्रयोग अनिवार्य रूप से क्योंकि शहर के विकास में आपका 1-1 मत महत्वपूर्ण स्थान रखता है। उपरोक्त सभी बातों से मेरा यह तथ्य व सुझाव है कि आप इन उपरोक्त बातों में किस मतदाता के रूप में अपने आपको पाते हैं, अपना स्वयं का चयन कर आगामी नगर पालिका चुनाव में अपना महत्वपूर्ण मतदान सोच समझ कर करें आपका एक मत अमूल्य है। 

No comments:

Post a Comment

Translate