Tuesday, December 29, 2020

प्रतिवर्ष करेंगे रानी कमलापति का स्मरण, मेला भी लगेगा, बलिदानियों को याद करना जरूरी

प्रतिवर्ष करेंगे रानी कमलापति का स्मरण, मेला भी लगेगा, बलिदानियों को याद करना जरूरी

मध्य प्रदेश के गोंड राजाओं और रानियों का स्वतंत्रता संग्राम में महत्वपूर्ण योगदान 

भोपाल में 115 करोड़ रूपए के कार्यों का मुख्यमंत्री ने किया लोकार्पण


भोपाल। गोंडवाना समय।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बलिदानियों का स्मरण जरूरी है। भोपाल में रानी कमलापति की प्रतिमा की स्थापना उनके बलिदान के प्रति आमजन द्वारा अभिव्यक्त किया गया सम्मान है। देश की स्वतंत्रता के लिए जो शहीद हुए, उनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करना आवश्यक है। मध्य प्रदेश के गोंड राजाओं और रानियों का स्वतंत्रता संग्राम में महत्वपूर्ण योगदान रहा है।
         श्री रघुनाथ शाह, श्री शंकर शाह, रानी दुर्गावती आदि का बलिदान इतिहास में दर्ज है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि रानी कमलापति ने अपने 14 वर्षीय पुत्र नवल शाह को युद्ध भूमि में संग्राम के लिए भेजा जो शहीद हुए थे। इसके पश्चात स्वयं सम्मान और स्वाभिमान के खातिर रानी ने जौहर किया। भोपाल की झील में उन्होंने जल समाधि ली।
        भारतीय संस्कृति में ऐसे बलिदान याद रखे जाते हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भोपाल में प्रतिवर्ष रानी कमलापति की स्मृति में कार्यक्रम होगा जिसमें प्रदेश के गोंडवाना अंचल के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे। भोपाल के संस्थापक राजा भोज की झील के पास प्रतिमा स्थापित की गई थी। इसी श्रंखला में रानी कमलापति की प्रतिमा की स्थापना नागरिकों के लिए गर्व का विषय है।

भोपाल होगा सबसे स्वच्छ और सुंदर शहर

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज भोपाल में आर्च ब्रिज के लोकार्पण के अवसर पर कहा कि भोपाल की सुंदरता और स्वच्छता में वृद्धि के लिए निरंतर प्रयास होंगे। अगले 5 वर्ष की विकास और सौन्दर्यीकरण की योजना भी तैयार की गई है। इसे जल्दी ही आम जनता के समक्ष लाया जाएगा। भोपाल के जलाशयों को बचाया जाएगा। उन्हें हम मल का भंडार नहीं बनने देंगे। भोपाल में इसी उद्देश्य से सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित किए जा रहे हैं। भोपाल को देश का सबसे स्वच्छ एवं सुंदर शहर बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कुल 115 करोड़ रूपए के कार्यों का शुभारंभ किया। आज जिन निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया। 


No comments:

Post a Comment

Translate