Thursday, February 18, 2021

गोंड समाज की मूल संस्कृति परंपराओं को संरक्षित करने के लिये सबसे पहले जानना और मानना होगा

गोंड समाज की मूल संस्कृति परंपराओं को संरक्षित करने के लिये सबसे पहले जानना और मानना होगा

कटनी जिले के विजयराघवगढ़ तहसील के ग्राम बम्होरी में हुआ बड़ादेव ठाना में झण्डा पूजन कार्यक्रम 

गोंड समाज महासभा द्वारा किया गया आयोजन 


कटनी। गोंडवाना समय।

कटनी जिले के विजयराघवगढ़ तहसील अंतर्गत ग्राम बम्होरी में प्रतिवर्ष अनुसार 16 फरवरी 2021 को बड़ादेव ठाना में झंडा पूजन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उक्त जानकारी तिरू ब्रजभान सिंह मरावी जी जिला उपाध्यक्ष गोंड समाज महासभा जिला कटनी एवं हुकुम सिंह मरावी जिला अध्यक्ष गोंडी भूमका प्रकोष्ठ जिला कटनी ने देते हुये बताया कि


बड़ादेव ठाना में झंडा पूजन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि गोंड समाज महासभा मध्य प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष तिरु बी एस परतेती जी, विशिष्ठ अतिथि गोंडी भूमका प्रकोष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष तिरू हरि सिंह उइके जी कटनी,

गोंडी भूमका प्रकोष्ठ प्रदेश सचिव तिरु महेश कुमार वट्टी जी जबलपुर, सेक्टर कमेटी उगली जिला सिवनी के अध्यक्ष तिरु सहत लाल सरूते जी सहित अन्य क्षेत्रीय जन, पदाधिकारी गण, कर्मचारी अधिकारी गण मौजूद रहे।

संगठित होने से जनजाति समुदाय को मिलेंगे संवैधानिक अधिकार 


बड़ादेव ठाना में झंडा पूजन कार्यक्रम के दौरान सगासमाज को अतिथियों द्वारा अपने संबोधन में संदेश देते हुये कहा गया कि अनुसूचित जनजाति समुदाय को संविधान में प्राप्त संवैधानिक हक अधिकारों को जानना अत्यंत आवश्यक है।

इसके साथ जनजाति समुदाय को संवैधानिक अधिकार संगठित होने से प्राप्त हो सकता है। वहीं सबसे विशेष मुख्य यह है कि हम सबको गोंड समाज की मूल संस्कृति परंपराओं को संरक्षित करने के लिये सबसे पहले जानना और मानना होगा। 

No comments:

Post a Comment

Translate