Sunday, March 21, 2021

महिला साक्षरता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने पर मंडला जिले को मिला स्वर्ण पदक

महिला साक्षरता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने पर मंडला जिले को मिला स्वर्ण पदक

निरक्षरता से आजादी अभियान अंतर्गत महिला ज्ञानालय कार्यक्रम की राष्ट्रीय स्तर पर सराहना

टीमवर्क से जिले को यह उपलब्धि हासिल हुई है


मण्डला। गोंडवाना समय।

महिला साक्षरता को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से जिला प्रशासन मण्डला द्वारा संचालित किये गये निरक्षरता से आजादी अभियान अंतर्गत महिला ज्ञानालय को राष्ट्रीय स्तर के स्कॉच पुरस्कार के तहत स्वर्ण पदक प्राप्त हुआ है। इस उपलब्धि पर कलेक्टर हर्षिका सिंह ने संबंधित अधिकारी कर्मचारियों को बधाई देते हुये कहा कि मैदानी अमला द्वारा की गई अथक मेहनत से यह उपलब्धि हासिल हुई है। इस अवार्ड के लिये देश के अनेक जिलों को नामांकित किया गया था जिसमें जिला प्रशासन मण्डला को स्वर्ण पदक प्राप्त हुआ है। 

 प्रत्येक महिला को शिक्षित तथा स्वस्थ करने तक यह प्रयास निरंतर जारी रहेगा


इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार कलेक्टर हर्षिका की पहल पर महिला एवं बाल विकास विभाग के माध्यम से दुर्गाअष्टमी से महिला ज्ञानालय कार्यक्रम संचालित किया गया। अभियान के तहत ग्राम की साक्षर महिलाओं के माध्यम से निरक्षर महिलाओं को साक्षर करने के लिये पंचायत स्तर पर महिला ज्ञानालय संचालित किये गये। महिलाओं को चिन्हित कर उन्हें अक्षर ज्ञान, नाम लिखना, गिनती तथा वित्तीय रूप से साक्षर होकर बैंक की कार्यप्रणाली से अवगत कराया गया है।

जिला प्रशासन के इस प्रयास को स्कॉच अवार्ड के लिये नामांकित किया गया। जिले के इस नवाचार ने राष्ट्रीय स्तर के इस मंच बहुत प्रभावित किया जिसके परिणाम स्वरूप स्कॉच ग्रुप द्वारा जिला प्रशासन मण्डला को स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया। कलेक्टर हर्षिका सिंह ने कहा कि जिले में काम करने की बहुत संभावनाएं हैं, उसके लिये समर्पित टीम भी मौजूद है। टीमवर्क से जिले को यह उपलब्धि हासिल हुई है, प्रत्येक महिला को शिक्षित तथा स्वस्थ करने तक यह प्रयास निरंतर जारी रहेगा। 

No comments:

Post a Comment

Translate