Saturday, May 14, 2022

नगरीय निकाय एवं पंचायत चुनाव में बसपा, ओबीसी को 52 प्रतिशत टिकिट देगी

नगरीय निकाय एवं पंचायत चुनाव में बसपा, ओबीसी को 52 प्रतिशत टिकिट देगी 


सिवनी। गोंडवाना समय।

बहुजन समाज पार्टी जिला सिवनी द्वारा राष्ट्रपति को ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि अन्य पिछड़े वर्गो की जातियों को नगरीय निकाय एवं पंचायत चुनाव में इन वर्गो की हिस्सेदारी सुनिश्चित करने के लिए अध्यादेश लाकर आरक्षण प्रदान करें। सर्व विदित है कि मध्यप्रदेश में पिछले दो वर्षो से अधिक समय से पंचायत एवं नगरीय निकाय के चुनाव लंबित है जिसमें मुख्य अड़चन आरक्षण है। जिसमें मध्यप्रदेश सरकार बगैर किसी ठोस तैयारी के माननीय उच्चतम न्यायालय को दिए गए तर्को के जबाव से संतुष्ट नहीं कर सकी। 

जो कार्य सरकार कई वर्षो से नही कर पाई अब एक सप्ताह में करने की बात कर रही है


जिसके कारण माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा सरकार को फटकार लगाते हुए इनकों अन्य पिछड़े वर्गो के लिए आरक्षण की व्यवस्था करने के लिए जरूरी मापदण्ड पूरा करने के लिए ट्रिपल टेस्ट 1. राज्य के भीतर स्थानीय निकायों के रूप में पिछड़ेपन की प्रकृति और निहितार्थ की कठोर जॉच करने के लिए आयोग की स्थापना, 2. आयोग की सिफारिशों के मुताबिक स्थानीय निकायवार प्रावधान किए जाने के लिए आवश्यकता के अनुपात को निर्दिष्ट करना ताकि अधिकता का भ्रम न हो । 3. किसी भी मामले में ऐसा आरक्षण अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग के पक्ष में आरक्षित कुल सीटों के 50 प्रितशत से अधिक नही होगा। यह पूरी कवायत कर लेगें जो कि असंभव सा लगता है। जो कार्य सरकार कई वर्षो से नही कर पाई अब एक सप्ताह में करने की बात कर रही है। 

अध्यादेश लाकर नया कानून बनाकर भी अन्य पिछड़ा वर्गो को उनकी हिस्सेदारी दे सकती है

जबकि सरकार चाहे तो संवैधानिक व्यवस्था के तहत  इस मामले में अध्यादेश लाकर नया कानून बनाकर भी अन्य पिछड़ा वर्गो को उनकी हिस्सेदारी दे सकती है लेकिन देश की केन्द्र एवं अधिकतम राज्य सरकारें आरक्षण के मामले में हीला हवाली करती है। जिसके कारण निर्वाचन प्रक्रिया में बहुत देरी हुई है। इसके लिए कांग्रेस और भाजपा दोनो ही पार्टी जिम्मेदार है जबकि बसपा समता मूलक समाज चाहती है और इसके लिए मध्यप्रदेश में नगरीय निकाय एवं पंचायत चुनाव में ओबीसी को बसपा 52 प्रतिशत टिकिट देकर उनको हिस्सेदारी देना चाहती है। ज्ञापन सौंपते समय प्रमुख रूप से उमाकांत बन्देवार जिला प्रभारी सिवनी, रवि मेश्राम विधान सभा प्रभारी सिवनी, सुभाष चौधरी विधान सभा प्रभारी बरघाट, शैलेन्द्र कौशरे अध्यक्ष केवलारी, एड. सतीश यादव अध्यक्ष सिवनी, एड. संतोष डहेरिया, अर्जुन यादव, राजेश साहू, आदि अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Translate