Monday, January 16, 2023

गोंडियन संस्कृति के प्रसिद्ध पवित्र-धार्मिक तीर्थ स्थल समुन्द्रराजा में होते है प्राकृतिक शक्ति के वास्तविक दर्शन-आंनद पंजवानी

गोंडियन संस्कृति के प्रसिद्ध पवित्र-धार्मिक तीर्थ स्थल समुन्द्रराजा में होते है प्राकृतिक शक्ति के वास्तविक दर्शन-आंनद पंजवानी 

आदिवासी समाज की एकता व कोयातूर सेवा संस्थान आयोजन कमेटी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की किया प्रशंसा 


सिवनी। गोंडवाना समय। 

जिला सिवनी के छपारा ब्लॉक में गोंडियन संस्कृति प्रसिद्ध पवित्र-धार्मिक तीर्थ स्थल समुन्द्रराजा दिघौरी में कोयातूर सेवा संस्थान द्वारा आयोजित 52 कलश घट ज्योति स्थापना के पावन अवसर पर जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष श्री आनंद पंजवानी ने पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचकर पवित्र तीर्थ स्थल समुन्द्रराजा दिघौरी के दर्शन कर आशीर्वाद लिया।
                


जहां  पर तिरू 750 धनवंतरी महात्यागी लिंगो दादा जी साजबा दरबार के चरण स्पर्श कर आशीर्वाद भी प्राप्त किया। इस दौरान उन्हें कार्यक्रम आयोजन कमेटी के द्वारा कार्यक्रम में मौजूद सगा समाज को अपना संदेशयुक्त उद्बोधन देने का शुभ अवसर पर भी प्रदान किया गया। 

समुन्द्रराजा के दर्शन कर अपने आप को बताया सौभाग्यशाली


गोंडियन संस्कृति प्रसिद्ध पवित्र-धार्मिक तीर्थ स्थल समुन्द्रराजा दिघौरी में दर्शन करने के संबंध में जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष आनंद पंजवानी ने गोंडवाना समय से चर्चा में बताया कि

गोंडियन संस्कृति के प्रसिद्ध पवित्र धार्मिक स्थल समुन्द्रराजा में पहुंचकर उन्हें प्राकृतिक शक्ति का अहसास हुआ, प्राकृतिक शक्ति का वास्तविक दर्शन यहां पर आकर प्राप्त करने के लिये उन्होंने अपने आप को सौभाग्यशाली बताया। 

कोयातूर सेवा संस्थान आयोजन कमेटी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की प्रशंसा भी किया


जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष आनंद पंजवानी ने आगे चर्चा में बताया कि गोंडियन संस्कृति के प्रसिद्ध पवित्र धार्मिक स्थल समुन्द्रराजा में प्राकृतिक शक्ति का दर्शन करने के साथ साथ उन्होंने गोंडियन संस्कृति के आस्था

विश्वास रखने वाले सगाजनों के अपारजनसमुह को एकता के साथ में गोंडी धर्म संस्कृति रीति रिवाज पंरपरा को निभाते हुये कार्यक्रम को आयोजित करने वाले कोयातूर सेवा संस्थान आयोजन कमेटी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की प्रशंसा भी किया। 

 52 कलश घट ज्योति स्थापना के माथा टेककर दर्शन भी किया


जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष आनंद पंजवानी ने आगे चर्चा में बताया कि गोंडियन संस्कृति प्रसिद्ध पवित्र-धार्मिक तीर्थ स्थल समुन्द्रराजा दिघौरी में प्राकृतिक दर्शनीय स्थल की विशेषताओं को लेकर मौजूद आदिवासी समाज के बुजुर्गों से जानकारी भी प्राप्त किया।

इसके साथ ही उन्होंने 52 कलश घट ज्योति स्थापना के माथा टेककर दर्शन भी किया। 

गोंडियन साहित्य की पुस्तकें भी क्रय किया


जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष आनंद पंजवानी ने आगे चर्चा में बताया कि गोंडियन संस्कृति प्रसिद्ध पवित्र-धार्मिक तीर्थ स्थल समुन्द्रराजा दिघौरी में जगह जगह पर लगाये गये साहित्य की दुकानों में जाकर उन्होंने गोंडियन धर्म, संस्कृति से संबंधित साहित्यक पुस्तकों का अवलोकन कर अध्ययन भी किया।

इसके साथ ही प्राकृतिक शक्ति से संंबंधित अनेक जानकारी के लिये उन्होंने गोंडियन साहित्य की पुस्तकों को क्रय भी किया है। 

आनंद पंजवानी के साथ इस दौरान प्रमुख रूप से ये रहे मौजूद


जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष आनंद पंजवानी के साथ इस दौरान विपिन यादव, तबरेज अली, कनहैया सनोडिया, श्याम जंघेला, सुनील उइके, प्रेम चंद भलावी, महेंद्र बट्टी, मनीराम सवार्ती सहित युवा साथी एवं श्रद्धालुगण उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a Comment

Translate